नक्सलियों ने दो निर्दोष ग्रामीणों की जन अदालत लगाकर की हत्या, पुलिस की मुखबिरी का रटा -रटाया आरोप

0
145

बस्तर से ब्यूरो चीफ चंद्रकांत से क्षत्रिय की खास रिपोर्ट

सुकमा । जिले के किस्ताराम इलाके में नक्सलियों ने जन अदालत लगाकर दो निर्दोष ग्रामीणों की हत्या कर दी। मृतकों के नाम पोडियम बलराम और कवासी गंगा बताए जा रहे हैं। नक्सलियों ने जन अदालत में निर्दोष ग्रामीणों की पहली पिटाई की । इस दौरान नक्सलियों ने उन पर पुलिस मुखबिरी का रटा- रटाया आरोप लगाया। दोनों ग्रामीणों की हत्या के बाद उनके शव फेंक दिया गया । उसके पास नक्सली पर्चे भी फेंके गए। हैं।

Read also : क्षत्रिय समाज गीदम के दीपावली मिलन समारोह में समाज के श्रेष्ठजनों दिया मार्गदर्शन

इसमें नक्सलियों ने इस बात का उल्लेख किया है कि यह दोनों पुलिस की मुखबिरी किया करते थे । इसके कारण उन्हें यह सजा दी गई।

पुलिस की सफलता से बौखलाए नक्सलियों की कायराना करतूत

यहां हम आपको यह भी बता दें कि पुलिस के लोन वर्राटू अभियान से नक्सलियों में खलबली मची हुई है । अब तक 55 इनामी सहित 202 से ज्यादा नक्सली इस अभियान के तहत सरेंडर कर चुके हैं। इससे नक्सलियों का संगठन छिन्न-भिन्न हो चुका है । लोन वर्राटू की सफलता से घबराए नक्सली अब आदिवासियों में भय पैदा करने के उद्देश्य से ऐसी कायराना हरकतें करते आ रहे हैं।