Murder and Sucide : किसान प्रवीण ने पत्नी और बेटी का घोंटा गला, उसके बाद की खुदकुशी

0
155

रायपुरपहले उसने सोती हुई अपनी लाडली बेटी को निहारा, उसके बाद फिर अचानक क्या हुआ कि उसकी हथेलियां बेटी की गर्दन पर कस गई । वह बच्ची छटपटाई मगर उसकी आवाज नहीं निकल सकी । देखते ही देखते उसके प्राण पखेरू उड़ गए। इसके बाद उसी शख्स ने बगल सो रही पत्नी के साथ भी वही किया, जो उसने अपनी बेटी के साथ किया था। उसके बाद उसने कमरे की पंखे से प्लास्टिक की रस्सी लगाई और उस पर खुद झूल गया । सुबह मोहल्ले वालों ने जब उसे उठने के लिए शोर मचाया तो कमरे से कोई जवाब नहीं मिला। इसके बाद जैसे ही किसी ने खिड़की से झांका तो , उसे किसान प्रवीण निषाद ( former Pravin Nishad) की फांसी पर लटकी हुई लाश देखने को मिली। आनन-फानन में इसकी सूचना तेलीबांधा थाने को दी गई । मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लिया और उन्हें पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया । हत्या और आत्महत्या ( murder and sucide) के इस मामले की तफ्तीश जारीी है

क्या है पूरा मामला:

दरअसल यह पूरा मामला तेलीबांधा थाना (Telibandha police station ) क्षेत्र के फुंदहर गांव का बताया जा रहा है । जहां प्रवीण निषाद ने पहले अपनी बेटी दीक्षा निषाद और उसके बाद पत्नी टोकेश्वरी निषाद की गला दबाकर हत्या कर दी। उसके बाद खुद फांसी पर लटक गया, जिससे तीनों की ही मौत हो गई । यह जानकारी तेलीबांधा सीओ सुनील शर्मा ने दी । उन्होंने बताया कि मृतक किसान बताया जा रहा है । उसके ऊपर कोई कर्ज भी नहीं था । इसके अलावा उसकी किसी से कोई दुश्मनी भी नहीं थी ।फिर उसने आत्महत्या क्यों की ? इस पर पुलिस विवेचना कर रही है। तेलीबांधा सीओ ने आगे कहा की सूचना पर पहुंची पुलिस पुलिस (police ) को कमरे का दरवाजा भीतर से बंद मिला । पुलिस ने दरवाजा दरवाजा तोड़कर तीनों ही लाशों को बरामद किया । स्थानीय लोगों की मदद से शवों की शिनाख्त कराई गई । इसके बाद लाशों का पंचनामा कर उन्हें पोस्टमार्टम ( postmortum) के लिए भेज दिया गया है । मौका ए वारदात से किसी भी तरह की का कोई नोट नहीं मिला है । पुलिस मामले की तफ्तीश कर रही है।