पतंजलि को जड़ी – बूटियों से हुई 3562 करोड़ रुपए की कमाई

0
111

हरिद्वार । पतंजलि आयुर्वेद ( patanjali Ayurved) को वित्त वर्ष 2019 2020 के पहली छमाही में 3562 करोड रुपए की आए हुए जो अब तक की सबसे ज्यादा कमाई बताई जा रही है यह जानकारी कंपनी के प्रवक्ता एसके तिजारावाला ने दी। उन्होंने बताया के पतंजलि योगपीठ ( patanjali yogpith) अपनी आयुर्वेदिक दवाओं के विकास के लिए निरंतर कार्य कर रही है। इससे पहले जीएसटी (GST ) के कारण कंपनी को भारी नुकसान उठाना पड़ा था, लेकिन इस बार उसकी कमाई में 148 गुने की वृद्धि हुई है।

कंपनी के प्रवक्ता एस के तिजारावाला ने बताया है कि पतंजलि आयुर्वेद अपनी प्रोडक्ट लाइन में बदलाव कर उसे और बेहतर कर रही हैं. पिछले कुछ दिनों में प्रोडक्ट लाइनें, जो पहले पतंजलि संभालती थी अब उन्हें कई अन्य कंपनियों को सौंप दिया गया है। पतंजलि FMCG के साथ-साथ आयुर्वेदिक दवाओं का कारोबार भी करती है।

जीएसटी के कारण हुआ था नुकसान-

पतंजलि के सीईओ आचार्य बालकृष्ण ने हाल में कहा था कि दो साल पहले लागू हुए वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के कारण पतंजलि को नुकसान हुआ है। बालकृष्ण का कहना है कि जीएसटी के कारण कंपनी ट्रेड, सप्लाई और डिस्ट्रीब्यूशन चैनल में सामंजस्य स्थापित नहीं कर पाई है, जिससे नुकसान बढ़ा। हालांकि, उन्होंने कहा कि हम वापसी करेंगे और इसका परिणाम तिमाही नतीजों में दिखना शुरू हो गया है।