सालेम इंग्लिश मीडियम स्कूल में संस्कृत के श्लोकों पर थिरके छात्राओं के पांव, बच्चों ने दिए पर्यावरण संरक्षण के संदेश

0
100

रायपुर। सालेम इंग्लिश मीडियम स्कूल ( Salem English Medium School) में बच्चों के सांस्कृतिक विकास के लिए तमाम गतिविधियां चलाई जाती हैं । इसी क्रम में संस्कृत परिषद द्वारा संस्कृत भाषा में नाटक (Drama in Sanskrit language ) , गीत, नृत्य ( Song and dance) और श्लोक पाठ आदि का आयोजन किया गया । यह जानकारी कार्यक्रम की संयोजिका उर्मिला उर्मि ने दी।

 


उन्होंने बताया कि कार्यक्रम का आगाज शायरी और गरिमा की मां सरस्वती से हुआ। दोनों ही छात्रााओं ने संस्कृृत में वंदना के श्लोक पर सुंदर नृत्य किया । दोनों की जुगलबंदी देखकर दर्शक दीर्घाा में मौजूद लोग तालियां बजाने पर मजबूर हो गए।

लघु नाटिका के माध्यम से आदित्य , सौम्य ,सनत ने याद दिलाया कि भारत में
तुलसी पूजन का विधान.. तुलसी के औषधीय गुणों के कारण ..है।
तुलसी हमें अद्भुत रोग
प्रतिरोधक शक्ति प्रदान करती है । इसी प्रकार आंवला नवमी को आंवला और वट सावित्री पूजन का विधान है। जो भारतीय परंपरा में पेड़- पौधों को सम्मान देने के वैज्ञानिक आधार को स्पष्ट करता है।

फैंसी डैस प्रतियोगिता मे भी विद्यार्थियों ने बढ चढ कर हिस्सा लिया ।

एक प्रेरक नाटक में खुशी ,मौक्तिका तनुष्का, हर्षिता ,भूमि ,अंशिका ने प्रदूषण से पीड़ित .. प्रकृति ,वायु, जल पृथ्वी, अग्नि ,आकाश आदि का रूप धारण कर आगाह किया कि
दिल्ली नगर में पर्यावरण प्रदूषण के कारण जैसी भयावह स्थिति है वैसी अन्यत्र न हो।. इसके लिये निष्ठापूर्वक प्रयास अनिवार्य है ।

इस अवसर पर शाला के प्राचार्य वी के सिंह तथा शिक्षकों श्रीमती शैलजा और पटेल सर की उपस्थिति महत्वपूर्ण थी। ..
..