अरब देश बने भारत के रणनीतिक साझेदार, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सऊदी अरब से किए 12 समझौते

0
62

दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime minister Narendra Modi ) ने आज सऊदी अरब (Saudi Arabia) के साथ 12 समझौते किए । इसमें पेट्रोलियम पदार्थों के आयात सहित तमाम दूसरे समझौते शामिल बताए जा रहे हैं। तो वही सऊदी अरब के देश भारत के प्रमुख रणनीतिक साझेदार के तौर पर भी काम करने को तैयार हैं । इससे एक और जहां भारत की गुणवत्ता युक्त रक्षा उत्पादों को एक नया बाजार मिलेगा , वही सऊदी अरब से बेशुमार दौलत भारत आएगी ।इससे देश की अर्थव्यवस्था भी मजबूत होगी।

नरेंद्र मोदी रियाद में तीसरे फ्यूचर इन्वेस्टमेंट इनीशिएटिव फोरम के सत्र में शामिल हुए। इसके अलावा सुल्तान सलमान बिन अब्दुल अजीज अल सऊद से उनकी उपयोगी वार्ता हुई। दोनों देशों के बीच हुए रक्षा समझौते से सामरिक क्षेत्र का नया अध्याय शुरू होगा। इसके अलावा हवाई सेवा,दवा व अन्य मेडिकल उत्पाद, पेट्रोलियम क्षेत्र में सऊदी कंपनी अरामको कॉरपोरेशन के साथ समझौते हुए। स्टॉक एक्सचेंज, हज से जुड़े सहयोग, और रुपये कार्ड को लेकर करार हुआ।

आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सऊदी अरब के ऊर्जा मंत्री अब्दुल अजीज बिन सलमान अल से वार्ता हुई। ऊर्जा क्षेत्र में आपसी संबंध बढ़ाने का निर्णय हुआ। पर्यावरण, जल और कृषि मंत्री अब्दुल-रहमान बिन अब्दुलमोहसिन अल फजली से भी मोदी की मुलाकात उपयोगी रही। नरेंद्र मोदी ने सऊदी अरब के इन्वेस्टमेंट इनीशिएटिव फोरम में कहा कि भारत को पांच ट्रिलियन की अर्थव्यवस्था बनाने की दिशा में प्रयास किये जा रहे है। दो हजार चौबीस तक यह लक्ष्य हासिल कर लिया जाएगा। भारत में वैश्विक निवेशकों के लिए बढ़ते व्यापार और निवेश के अपर अवसर है। भारत में एक अरब अमेरिकी डॉलर से अधिक मूल्य वाले यूनिकॉर्न की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। वैश्विक निवेश के लिए अनुकूलता है। ईज ऑफ डूइंग में भारत का ग्राफ ऊंचा हुआ है। साऊदी अरब भी इसमें भारत का सहयोगी है।