DGGI के छापे से कांपे प्लाईवुड व्यापारी, लाखों रुपए की GST चोरी की आशंका

0
279

रायपुर। गुरुवार को राजधानी के प्लाईवुड कारोबारियों Plywood bussinesman के यहां डायरेक्टरेट जनरल ऑफ गुड्स एंड सर्विस टैक्स इंटेलिजेंस DGGI के दस्ते ने छापा मारा। इससे वहां हड़कंप मच गया ।एक एक कर शहर में कई प्लाई बोर्ड व्यापारियों plywood bussinesman के यहां छापे पड़े विभाग ने लाखों की जीएसटी चोरी पकड़ने का दावा भी किया।

6 महीने से अधिकारियों के रडार पर थे व्यापारी :

DGGI के अधिकारियों ने बताया कि पिछले कुछ महीनों से मिल रहे इन्पुट के आधार पर मेसर्स धनीराम लामिना प्राइवेट लिमिटेड, रावांभाटा रायपुर और मेसर्स महावीर ट्रेडिंग भैंसथान के ठिकानों पर तलाशी अभियान चलाया गया। पूरे ऑपरेशन का संचालन DGGI के 18 अधिकारियों की एक टीम द्वारा किया गया था, जिसमें 8 वरिष्ठ खुफिया अधिकारी और 8 खुफिया अधिकारी और 2 कर सहायक शामिल थ। जो 5 अलग-अलग स्थानों पर फैले थे। यह बताया गया है कि कारखाने और साथ ही कार्यालय परिसर में प्लाईवुड और लेमिनेट्स की खरीद और बिक्री से संबंधित गुप्त दस्तावेजों को बड़ी मात्रा में बरामद किया गया है। संयुक्त निदेशक नेम सिंह द्वारा जारी किए गए सर्च वारंट के साथ अतिरिक्त महानिदेशक अजय पांडे के मार्गदर्शन में छापेमार कार्रवाई की गई।

अधिकारियों ने बताया कि अवैध व्यापारिक गतिविधियों के संचालन के तौर-तरीकों की निगरानी वरिष्ठ खुफिया अधिकारी गोपाल प्रसाद जोशी द्वारा की जा रही थी और अधिकारियों की टीम ने इसमें पूरी सहायता की। अधिकारियों ने बताया कि इस संबंध में पर्याप्त इनपुट मिलने के बाद पिछले 6 महीने से उन्होंने प्लाईवुड और प्लाईवुड के ऐसे निर्माताओं और व्यापारियों पर नजर रखी थी। इस छापेमार कार्रवाई के परिणामस्वरूप बड़े पैमाने पर गुप्त खरीद के दस्तावेजों के बरामदगी के साथ-साथ अंतर राज्यीय लेनदेन दिखाते हुए उक्त वस्तुओं की बिक्री भी हुई। बरामद रिकॉर्डों की प्रारंभिक जांच में लाखों रुपये की जीएसटी चोरी का खुलासा हुआ है, जिसकी सटीक मात्रा निश्चित समय में पता चल जाएगी।